light bulb ka aviskar kisne kiya tha

light bulb ka aviskar kisne kiya tha 2024 | लाइट बल्ब के बारे मे सभी जानकारी

Latest News

आज के आर्टिकल मे हम बात करेगे light bulb ka aviskar kisne kiya tha लाइट बल्ब का अविष्कार किसने किया था.  बल्ब का अविष्कार होने से पहले एक समय ऐसा भी था जब लोग रौशनी के लिए दिए, मोमबती या तेल वाले लेम्प का इस्तेमाल भी किया करते थे. लेकिन इन चीज़ों का अगर सही तरीके से इस्तेमाल नहीं किया जाता था तो बहुत सी दुर्घटनाएं भी हो जाया करती थी. जब थॉमस ऐल्वा एडीसन ने बल्ब का आविष्कार कर दिया तो तब मनुष्यों का जीवन ही बदल गया था. अब लोगों को अँधेरे मे रहने की कोई जरुरत नहीं पड़ती थी. घर के बाहर भी बल्ब का इस्तेमाल होने लगा. तो आज के आर्टिकल में हम ये जानेंगे की बल्ब का आविष्कार किसने किया था और क्यों किया था. वहीँ और भी जरुरी जानकारी जानेगे तो फिर चलिए शुरू करते हैं.

बल्ब मे किस धातु का इस्तेमाल किया जाता है

बल्ब असल में ऐसा उपकरण है जो की रौशनी प्रदान करता है टंगस्टन धातु का उपयोग विद्युत बल्बों के फिलामेंट बनाने के लिए किया जाता है। जब टंगस्टन से विद्युत प्रवाह किया जाता है तब वो गर्म हो जाता है और चमकने लगता है.

बल्ब का आविष्कार किसने किया था? लाइट बल्ब का आविष्कार कब हुआ था? | light bulb ka aviskar kisne kiya tha

बिजली के बल्ब का आविष्कार थॉमस ऐल्वा एडीसन ने सन 1879 में किया था. एडीसन एक जाने माने वैज्ञानिक थे.

लाइट बल्ब का आविष्कार कैसे हुआ था

विद्युत के इस्तेमाल से रौशनी पैदा करने का जो विचार सबसे पहले Chemist Humphrey Davy के मन में आया था. इस बात को लगभग 200 वर्षो से भी ज्यादा हो चुके है. उन्होंने ही सबसे पहले ये दिखाया था की जब विद्युत को तारों के माध्यम से प्रवाह किया जाये तब वो तार गर्म होकर रौशनी पैदा करती है.
वहीँ उनके द्वारा तैयार किये गए पहले ज़माने के उपकरण कुछ घंटो तक ही जल पाते थे. लेकिन थॉमस ऐल्वा एडीसन को ही बल्ब के आविष्कार करने का पूरा श्रेय दिया जाता है क्यूंकि उन्होंने सन 1879 को टंगस्टन धातु का उपयोग से विद्युत को पूरी दुनिया को पेश किया था.

Edison जी की दिमाग ने एक ऐसी तोड़ निकाली थी जिसमें वो thin carbon filament के साथ बेहतर design का इस्तेमाल करते थे जिसमें की बेहतर vacuums का इस्तेमाल किया गया, जो की आगे चलकर दोनों scientific और commercial challenges को ख़त्म करने में सफल रहा और अंत में light bulb बनकर तैयार हुआ.

यह लेख भी आप जरुर पढ़े: लिथियम बहुलक बैटरी कैसे बनती है?

क्या सच में Edison ने ही बल्ब का आविष्कार किया था 

इस सवाल का जवाब हाँ मे भी हो सकता है और ना मे भी. मतलब जितने भी बड़े आविष्कार आज तक हमारे इतिहास में हुए हैं, सभी लोगों को थोडा थोडा हाथ हर चीज़ मे ही रहा है. modern light bulb का आविष्कार असल में एक मिलती हुई कोशिश है
कुछ इतिहासकारों का मानना है की करीब 20 inventors से भी ज्यादा ने Light Bulb का design Edison से पहले ही तैयार कर दिया था.
लेकिन Thomas Edison का योगदान उन सबसे बहुत ज्यादा ही रहा है light bulb के evolution से उसे commercial production तक लाने मे. ऐसा इसलिए क्यूंकि वो ही ऐसे एकमात्र वैज्ञानिक थे जिन्होंने के पहला commercially practical बल्ब को तैयार किया था. वहीँ बाकि लोगों के design में काफ़ी गलतियाँ थी जिससे की वो सफल नहीं थे.

लाइट बल्ब के बारे में कुछ मुख्य FAQ:

लाइट बल्ब क्या होता है?
लाइट बल्ब एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण होता है जिसमें एक विद्युत तंतु होता है जिसे जलाने पर यह प्रकाशित होता है। यह रौशनी के उपकरण के रूप में उपयोग किया जाता है और रोज़ाना घरों और व्यापारिक स्थलों में प्रकाश के लिए प्रयुक्त होता है।

लाइट बल्ब के प्रकार क्या होते हैं?
इंकंडेसेंट बल्ब: पुराना प्रकार का बल्ब जो उच्च ऊर्जा खपत करता है।
सीएफएल बल्ब (CFL): Compact Fluorescent Lamp, जो इंकंडेसेंट से थोडा कम ऊर्जा खपत करता है।
एलईडी बल्ब: Light Emitting Diode, जो अधिक उच्च ऊर्जा दर्ज करता है और लंबी जीवनकाल है।

लाइट बल्ब के किस तरह काम करते हैं?
इंकंडेसेंट बल्ब एक तार को गरम करके प्रकाशित होता है, जबकि CFL और LED बल्ब विद्युत प्रदूषकों का प्रयोग करके प्रकाशित होते हैं। ये बल्ब बिना बिजली की खपत किए अधिक प्रकाश प्रदान करता हैं।

लाइट बल्ब के कितने प्रकार होते हैं?
लाइट बल्ब कई प्रकार के हो सकते हैं, जैसे कि वाट्स, रंग, बेस प्रकार और उपयोग के आधार पर। आपको अपनी आवश्यकताओं और प्राथमिकताओं के आधार पर बल्ब चुनने की आवश्यकता होगी।

लाइट बल्ब की जीवनकाल क्या होती है?
बल्ब की जीवनकाल उसके प्रकार और उपयोग के आधार पर भिन्न हो सकती है, लेकिन आमतौर पर इंकंडेसेंट बल्ब की जीवनकाल 1000 से 2000 घंटे के बीच होती है, जबकि CFL और LED बल्ब की जीवनकाल काफी अधिक हो सकता है यानि 10,000 से 50,000 घंटे तक।

लाइट बल्ब के खरीदारी में क्या ध्यान देना चाहिए?
बल्ब खरीदते समय बिजली बचत, कलर टेम्परेचर (गर्मी या ठंडी का रंग), वाट्स, बेस प्रकार और ब्रांड को ध्यान में रखें। आपकी आवश्यकताओं और बजट के आधार पर बल्ब का चयन करें।

यह लेख भी आप जरुर पढ़े: हिस्ट्री ऑफ़ कंप्यूटर माउस

निष्कर्ष-

तो दोस्तों आपको आपको हमारा यह आर्टिकल light bulb ka aviskar kisne kiya tha जानकारी कैसी लगी तो हमको आप कमेंट बॉक्स में बताना न भूलें और अगर आपका इस आर्टिकल से जुड़ा कोई सुझाव या सवाल है तो हमें जरूर बताएं। अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक और कमेंट करें और अपने दोस्तों के साथ शेयर भी करना ना भूले। जिससे की light bulb ka aviskar kisne kiya tha जानकारी उनको भी मिल सके धन्यवाद

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *